Sat. Oct 19th, 2019

जानिये क्या है राज? 69000 शिक्षक परीक्षा के परीक्षार्थियों को बधाई,

1 min read

उत्तर प्रदेश में 69000 सहायक शिक्षकों की बहाली से जुड़े परीक्षार्थियों ने अपनी लोकतांत्रिकता का अच्छा परिचय दिया है. अदालती तारीख़ों में परीक्षा का परिणाम सात-आठ महीनों से फंसा है. मैं इस परीक्षा से जुड़े छात्रों के प्रदर्शनों की तस्वीरें देखता रहता हूं. रविवार को एक तस्वीर मिली जिसमें बहुत सारी लड़कियां अपने हाथ ऊपर की हुई हैं. सबने अपने हाथ जोड़े हैं ताकि सामने खड़ी पुलिस लाठी न बरसाए. उनकी इस अपील का पुलिस पर असर भी हुआ. राज्य की क्रूरताओं का सामना करने का नैतिक बल गांधी जी देकर गए हैं. यह वही नैतिक बल है जिसके दम पर लड़कियों ने अपनी और साथी लड़कों की रक्षा की. प्रदर्शन की इन तस्वीरों में शामिल लड़कों और लड़कियों की प्रतिबद्धता की सराहना करना चाहता हूं. वीडियो और तस्वीरों में लड़के लड़कियां आपस में घुलकर अपने हक की लड़ाई लड़ रहे हैं. मेरे लिहाज़ से यह सुंदर तस्वीर है. मुझे इन परीक्षार्थियों पर गर्व है. सलाम!
इस आंदोलन की अच्छी बात है कि सभी उत्तर प्रदेश के अलग-अलग ज़िलों से आए हैं और हाथ में तख़्ती बैनर लेकर आए हैं. इस वक्त में जब मीडिया की प्राथमिकता बदल गई है ये छात्र- छात्राएं अलग-अलग ज़िलों से आकर प्रदर्शन कर रहे हैं. सुखद बात यह भी है कि इस आंदोलन में लड़कियां भी अच्छी संख्या में आई हैं. शायद सभी पहली बार मिल रहे होंगे. लड़कियां भी आपस में धरना स्थल पर मिल रही होंगी. इनका कहना है कि सरकार ने जो पात्रता तय की है उसी के अनुरूप परीक्षा पास कर चुके हैं. जब सरकार ने फार्म निकाला तो परीक्षा की तारीख में मात्र में एक महीने का वक्त दिया. अब रिज़ल्ट आने में आठ महीने की देरी क्यों हो रही है

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

LATEST VIDEOS

You may have missed