Sat. Oct 19th, 2019

102 साल का टूटा रिकॉर्ड, बिहार में आसमानी आफत: सड़कें बनीं समंदर, 29 की मौत

1 min read

बिहार में पिछले कई दिनों से भारी बारिश और बाढ़ का कहर जारी है. बाढ़ और बारिश के चलते राज्य में अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है. लौटते मॉनसून के प्रकोप ने बिहार में हाहाकार मचा रखा है. बताया जा रहा है कि मॉनसून की जोरदार बारिश के लिए सितंबर का महीना 102 सालों में सबसे ज्यादा भिगाने वाला बनने जा रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक देशभर में सितंबर में औसत बारिश 247.1 मिलीमीटर हुई जो सामान्य से 48 फीसदी अधिक और 1901 के बाद रिकॉर्ड बारिश है.बिहार में लगातार हो रही भारी बारिश से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त है. वहीं राज्य में जारी कुदरत का कहर अभी थमने के आसार नहीं हैं. बिहार के 14 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी है. पटना और दरभंगा में प्रशासन ने बारिश के भारी अलर्ट को देखते हुए सभी स्कूल-कॉलेज बंद करने का आदेश दिया है.आसमान से बरसी आफत और बाढ़ के कहर से कई बस्तियों में मकानों की पहली मंजिल पूरी तरह पानी में डूब गई हैं. बरसात की वजह से लोगों की जिंदगी बदतर हो गई है. लोग अपने घर में कैद हो गए हैं. चारों तरफ से पानी ही पानी है. जिससे लोग काफी परेशान हैं. बारिश और बाढ़ की आफत में लोगों का घर से निकलना मुश्किल है, ऐसे में खाने को लेकर भी लोग परेशान हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

LATEST VIDEOS

You may have missed